October 22, 2021



Keyword क्या होता है और SEO के लिए optimize कैसे करे

keyword kya hai
Keyword क्या होता है और SEO के लिए optimize कैसे करे 1

Hello Shouters, कैसे है आप सभी , स्वागत है आप सभी का हमारे ब्लॉग मे । अब आप लोग यहा इस page पर आए है तो जाहीर सी बात है की आप Keyword kya hai जानने के लिए आए होंगे । तो shouters आप बिलकुल सही जगह आए है ।

आज मै आपके सारे डौट्स क्लियर करने वाला हु और साथ मे seo के लिए keyword optimize kaise kare ये भी बताने वाला हु । दोस्तो keyword optimization एक बहुत ही महत्वपूर्ण पहलू है जब कभी आप अपने ब्लॉग या website को rank करवाने को सोच रहे है तो ।

आप को जानकार आश्चर्य होगा की ज़्यादातर websites या blog पे search engine से traffic बस उनके वैबसाइट के 12-19% content से ही आता है । और ये वही कंटैंट होते है जो की best seo optimized होते है । और जिनपर सर्च इंजिन भर भर के ट्रेफिक देना सुरू कर देता है ।

और आगर आपने अछे से internal linking कर के रखी है तो उसी बेस्ट page से विजिटर्स आपके और भी linked pages पे जाने लगते है और उनकी भी विवरशिप बढ्ने लगती है ।

इसलिए आप इसी बात से अंदाजा लगा सकते है की कीवर्ड की कितनी ज्यादा अहमियत होती है SEO की दुनिया मे ।

तो चलिए अब आपको बताते है की keywords kya hota hai और ये कैसे काम करता है और आपके वैबसाइट पे ट्रेफिक लाने मे मदद करता है । और साथ ही मे जानेंगे की कीवर्ड को optimize कैसे करे और बेस्ट content create कैसे करे ।

What is keyword in hindi (Keyword kya hai)?

SEO यानि की search engine optimization की भाषा मे बात करे तो keyword एक term होत है जो की search engine के लिए आपके कंटैंट की ranking को उसी keyword के लिए इम्प्रूव करता है । इसलिए एक बात आपको हमेशा ध्यान मे रखना चाहिए की keyword हमेशा content स्पेसिफिक होता है ।

मेरा मतलब या की जैसा मैंने कहा है की keyword आपके कंटैंट को search engine मे rank करने मे मदद करता है तो इसका मतलब ये नहीं है की आप लिखोगे आम के बारे मे और keyword का नाम डालोगे आचार। keyword भी आपका आपके कंटैंट से मिलता जुलता होना चाहिए।

अब उदाहरण के तौर पर आगर आपको समझाए तो मान लीजिए की आपने गूगल पे search किया की -seo अब seo आपका एक कीवर्ड है और अब सर्च इंजिन उस केयवोर्ड यानि की seo से संबन्धित सारे रिजल्ट्स आपको दिखाएगा ।

आप जब कभी कोई पोस्ट या कंटैंट लिखते हो तो आप जिसके बारे मे लिख रहे हो वो भी एक keyword है । जब कभी आप किसी सर्च इंजिन पे कुछ सर्च करते है तो नीचे उसी सर्च कुएरी से संबन्धित और भी कुएरी आपको दिखती है , वो भी केयवोर्ड है ।

अब आप के दिमाग मे ख्याल आ रहा होगा की कीवोर्ड्स की इतनी ज्यादा इम्पॉर्टेन्स है तो keyword का seo की दुनिया मे क्या योगदान है और इसे optimize कैसे करे तो चलिए अब आपको बताते है की seo के लिए कीवर्ड का क्या योगदान है ।

SEO के लिए keyword ज्यादा खाश क्यू है

keyword kya hai - what is keyword in hindi
Keyword क्या होता है और SEO के लिए optimize कैसे करे 2

जब भी आप किसी पोस्ट को लिखते है तो on page seo के लिए keyword का योगदान बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण होता है । off page seo मे भी keyword को वैल्यू होती है पर यदि आप नहीं भी करते है और आपका कंटैंट बहुत ही अच्छा है लिंकिंग अच्छे से करी गयी है तो आप का page search इंजिन page मे जरूर rank करेगा।

आइए जानते है keyword के importance को onpage और ऑफ page seo ओप्टिमैजेशन मे ।

On page keywords

On page कीवोर्ड optimization का मतलब होता है की जब आप कंटैंट को लिख रहे है तो आप ने जिस keyword पे कंटैंट को लिखा है उसकी keyword density कितनी है । आपने उस keyword को heading मे और title मे use किया है या नहीं ।

Note- title मे आपका मुख्य single tail keyword हमेशा सुरुवात मे होना चाहिए । ये आपके seo को बहुत ज्यादा प्रभावित करता है ।

और आपने उस keyword को image के alt मे use किया है नहीं और आपने किसी दूसरी साइट को जो की उसी कीवर्ड से स्पेसिफिक हो उसके कंटैंट को लिंक किया है या नहीं । ये सब होता है आपका on page keyword optimization ।

एक बात जो आपको ध्यान मे रखना है और मैंने पहले भी बताया है वो ये की कीवर्ड के हिसाब से ही कंटैंट बनाए जैसे की मैंने ये पोस्ट लिखा है की “keyword kya hota hai” .

और मैंने अपने पोस्ट मे keyword पे focus किया है “seo tips” । ऐसे मे मान लो सर्च इंजिन चकमा खा गया और आपके पोस्ट को rank करवा भी दिया तो user को आपका कंटैंट सही नहीं लगेगा और वो तत्काल बाहर हो जाएगा जिससे आपका Bounce Rate बहुत ज्यादा बढ़ जाएगा । जैसे ही आपका बाउन्स रेट बढ़ना सुरू होगा सर्च इंजिन आपके पोस्ट की ranking को डाउन करना स्टार्ट कर देगा ।

इसलिए आपको ऑन page केयवोर्ड optimize करने मे ज्यादा फोकस करना होता है । Google की नयी algorithm भी अब यूसर के on page keyword पे ही ज्यादा फोकस करती है । इसलिए जितना हो सके कीवर्ड को ओपतिमाइज करे और एक अच्छा कंटैंट क्रिएट करे ।

Off page keyword

off page keyword वो होता है जिसमे हम अपने कंटैंट नहीं बल्कि कंटैंट के Meta information मे keyword को optimize करते है । जो सर्च इंजिन को ये बताते है की ये पोस्ट किस बारे मे है ।

जैसे की हो गया आपका meta description , meta title , url -slug इत्यादि ।

जब भी कभी आप पोस्ट के मेटा को लिखते है तो ध्यान दे की आपका keyword आपके meta title , meta description मे होना चाहिए । और url-slug मे keyword का होना मतलब ये की आपका keyword url मे होना चाहिए।

अब उदाहरण के तौर पर अगर मै आपको समझाऊ तो जैसे मैंने ये पोस्ट लिखा है कीवर्ड के बारे मे तो आप इस पोस्ट की url को देखेंगे तो इसमे keyword को मैंने जोड़ा है ।

  • http://theshouters.net/keyword-kya-hota-hai

वैसे अगर google की बात करे तो यह off page keyword को महत्व नहीं देता है । क्यूकी ये आपके पोस्ट के कंटैंट मे से keyword को ऑटोमैटिक डेटेक्ट करता है जिससे की keyword spam यानि की wrong meta से गलत कंटैंट को priority न मिले ।

Keyword density kya hai

Keyword density का मतलब होता है की कीवर्ड का घनत्व अर्थात आपने अपने कंटैंट मे कितनी ज्यादा बार केयवोर्ड को प्रयोग किया है keyword की density उतनी ज्यादा बढ़ेगी । मगर ध्यान रहे की ज्यादा density होना भी आपके लिए खतरनाक साबित होगा । इसलिए keyword को बहुत ज्यादा बार रिपीट न करे ।

http://theshouters.net/fast-seo-hacks-hindi/

कीवर्ड को ज्यादा बार रिपीट करने को keyword stuffing कहते है ऐसा करने से केयवोर्ड की डैन्सिटि तो बहुत ज्यादा बढ़ जाती है लेकिन इससे सर्च इंजिन आपके कंटैंट को स्पैम मानने लगते है और आपके कंटैंट को ब्लॉक कर देते है । और आपका page सर्च इंजिन पे दिखाई देना भी बंद हो जाएगा इसलिए कीवर्ड स्तुफ्फिंग से बच के रहना है आपको ।

इसलिए हमेशा कंटैंट बनाते समय ध्यान दे की आपके पोस्ट मे keyword की density 1-2% तक ही रहे । उदाहरण के तौर पर अगर समझाऊ तो मन लो की आपका पोस्ट 600 वर्ड का है तो आपका keyword 6-12 बार रिपीट होना चाहिए । न की 50 बार ।

क्यूकी जब भी सर्च इंजिन के spider यानि की बोट्स या फिर कहे crawler आपकी वैबसाइट को crawl करते है तो वो खुद से पता लगा लेते है की अपने किस कीवर्ड पे फोकस किया है और आपका पोस्ट मे कीवर्ड की density कितनी है और यदि density ज्यादा रहती है तो आपके कंटैंट को वो spam घोसित कर देते है ।

Keyword कितने तरह के होते है

वैसे तो keyword 2 प्रकार के होते है।

  • Short tail keyword
  • long tail keyword

आइए जानते है इनके बारे मे , और पता करते है की ये seo मे कितने महत्वपूर्ण होते है या फिर होते भी है या नहीं ।

1. Short tail keyword

short tail कीवर्ड मे 1 से लेकर के 3 शब्द होते है और शॉर्ट तेल कीवर्ड पे रंकिंग बहुत ही मुश्किल होता है । क्यूकी इस कीवर्ड पे कॉम्पटिशन और बीड बहुत ही ज्यादा होता है । इसलिए हमेशा लॉन्ग टाइल कीवर्ड पे फोकस करो ।

उदाहरण के तौर पर जैसे हो गया – “Best budget laptop” अब इस कीवर्ड पे rank करना बहुत ही मुश्किल कम होगा ब्लॉगर या वेबसीटेस के लिए जो की हल फिलहाल की है है या फिर जिनके back link और DA स्ट्रॉंग नहीं है ।

2. Long tail keyword

लॉन्ग टेल कीवर्ड वो होते है जिनकी word लेंथ 3 से अधिक हो । उदाहरण के तौर पे जैसे हो गया – how to make money online in hindi, how to earn money by using facebook.

अब इन कीवर्ड को देखिए इनमे केयवोर्ड लेंथ 3 से ज्यादा है । और इन केयवोर्ड मे short tail keyword भी है जिसे की earn money online , facebook इत्यादि । अतः अब आपको समझ मे आ गया होगा की लॉन्ग तेल कीवर्ड शॉर्ट तेल कीवर्ड का ही कॉम्बिनेशन होता है ।

और SEO के हिसाब से long tail keyword के लिए page को rank करना बहुत हि आसान होता है क्यूकी इनमे competiton बहुत ही कम होता है । इसलिए इसमे रंकिंग instantly हो जाती है ।

इसलिए मै भी आपको यही सजेस्ट करूंगा की आप भी यदि सुरुवात कर रहे है ब्लॉगिंग की तो लॉन्ग टाइल कीवर्ड पे ज्यादा से ज्यादा फोकस करे ।

Keyword कहा प्रयोग करे

Keyword को उनके सही जगह पर प्रयोग करना अपने आप मे एक टेढ़ी खीर है । लेकिन मै आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने जा रहा हु जो की इस टेढ़ी खीर को आसानी से सीधी कर देगा । तो आइए जानते है की keyword को कहा कहा प्लेस करना चाहिए ।

  • Keyword को हमेशा title मे place करे और हो सके तो सुरुवात मे ही प्रयोग करे ।
  • Keyword को हमेशा url यंकी परमालिंक मे भी प्रयोग करे ।
  • Meta description मे keyword आपका जरूर प्रयोग होना चाहिए ।
  • Heading tags जैसे की h1 , h2 , h3..h6 मे keyword होना चाहिए ।
  • Image या फोटोस की meta यानि की alt मे keyword होना चाहिए ।

यदि आप इस तरह से कीवर्ड को अपने पोस्ट के कंटैंट मे place करते है तो आपका कंटैंट निश्चित रूप से उस कीवर्ड के लिए rank करेगा । क्यूकी ये seo के हिसाब से बहुत ही जरूरी strategies है जो आपको अपने उपयोग मे लनी चाहिए ।

फिर भी मै और ज्यादा अच्छे से समझने के लिए जल्दी ही एक अच्छा सा आर्टिक्ल अपने shouters के लिए लेके आऊँगा । जिससे की आपके सारे डौट्स क्लियर हो जाएंगे ।

Bonus Tip

Hey Shouters, आप सब के लिए मेरे पास एक बहुत ही अच्छा टॉपिक उपलब्ध है बोनस के तौर पर जिसके बारे मे शायद ही आप जानते हो तो चलिए बताते है आपको इसके बारे मे डिटेल्स मे ।

LSI keywords kya hai

LSI का full form होता है (Letent Sementic Indexing) । और lsi keywords का मतलब होता है keyword से ही मिलता जुलता टर्म जिसे सर्च इंजिन आपके पूरे कंटैंट मे बहुत ही गहराई से तलाश करता है ।

lsi keyword kya hai
Courtesy- Backlinko

अब उदाहरण के तौर पर आपको समझाए तो आप फोटो मे देख सकते है की हमारा मैं केयवोर्ड है -“cold brew coffee” . इसमे से lsi keyword क्या हो गए जैसे की इन तीनों कीवर्ड के वर्ड से संबन्धित कीवर्ड जैसे की नीचे दिए गई है

  • Temprature – Cold
  • Water – Cold , Coffee
  • Ice – Cold
  • Bottle – Coffee
  • Glass – Coffee ( मतलब की कॉफी है तो ग्लास जरूर होगा तो ये हो गया latent keyword)
  • Machine – Coffee (Coffee को या तो mchine से बनाओगे या फिर हाथ से इसलिए machine भी lsi keyword हुआ)

अब सर्च इंजिन क्या करेगा की यदि वह related term यानि की lsi keyword को आपके पोस्ट मे पता है तो वह समझ जाता है की पोस्ट कीवर्ड स्पेसिफिक है यानि की कीवर्ड के बारे मे ही पोस्ट है और genuine है ।

ऐसी परिस्थिति मे सर्च इंजिन आपकी पोस्ट को तुरंत rank कर देगा ।

इसलिए दिमाग मे एक बात गांठ बांध लो की सर्च इंजिन आप से काही ज्यादा स्मार्ट और तेज है इसलिए उसे बेवकूफ बनाना या चकमा देने की बात को भूल जाओ हमेशा के लिए । क्वालिटी कंटैंट को पब्लिश करोगे तभी आपका keyword काम करेगा नहीं तो वो भी बेकार ही रहेगा।

Conclusion

आशा करता हु की मैंने आज जो जानकारी आप लोगो के साथ साझा करी है वो आपको पसंद आई होगी और आप सभी के सारे doubts क्लियर हो गए होंगे ।

आज की ये जानकारी keyword kya hai बहुत ही महत्वपूर्ण है नए और पुराने दोनों ब्लॉगर के लिए SEO की बेसिस पे । इसलिए यदि कुछ समझ मे न आया हो या फिर कन्फ्युज हो रहे होतो कमेंट कर के सवाल जबाब जरूर करे ।

और इस पोस्ट को अपने दोस्तो के साथ share जरूर करे । ताकि आपके मित्रो और मेरा दोनों को भला हो । और कमेंट करना न भूले यदि मुझे कुछ रह गया हो या कंटैंट मे कोई दिक्कत है तो कमेंट जरूर करे । आपके कमेंट से मुझे उत्साह मिलता है और भी अच्छे कंटैंट आपके लिए बनाने को ।

मिलते है आप से अगले आर्टिक्ल मे – जय हिन्द ।

मेरा भारत महान

0 Shares

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0 Shares
Copy link