October 21, 2021



HTML क्या है और ये कैसे काम करता है

html kya hai
html kya hai
HTML क्या है और ये कैसे काम करता है 1

Hey Shouters , आज मै आपको बताऊंगा HTML के बारे मे जैसे की html kya hai और इसका यूस कहा होता है और html को हम कैसे सीख सकते है । Internet की दुनिया मे html बहुत ही सुना हुआ और इंपोर्टेंट चीज़ होती है ।

अगर आप ब्लॉगिंग करना चाहते है या वैबसाइट बनाना चाहते है तो आपके पास एचटीएमएल का ज्ञान होना बहुत ही जरूरी होता है । क्यूकी बिना एचटीएमएल के ज्ञान आप जरूरी modification और SEO को नहीं कर पाएंगे ।

आज के तारीख मे 70% ब्लॉगर जिनहे एचटीएमएल का ज्ञान होता है वो SEO ज्यादा अच्छे से कर पते है और जल्दी सफल हो पाते है । बस यू समझ लीजिए की html ही ब्लॉग या internet websites का आधार है । बिना इसके websites मुमकिन नहीं है ।

इसलिए आप चाहे स्टुडेन्ट हो या ब्लॉगर एचटीएमएल दोनों के लिए बहुत ही ज्यादा इंपोर्टेंट होता है और ऐसा भी नहीं है की एचटीएमएल सीखना चने चबाना जैसा कम होता है HTML सीखना बहुत ही आसान है ।

तो चलिए आप को बताते है की what is html in hindi या फिर html kya hota hai और इसके कैसे सीखे ।

Html kya hai ?

HTML का मतलब होता है Hyper Text Markup Language , जो की एक तरह की मार्कअप यानि की formatting language होती है जिसका उपयोग हम website के फ्रंट एंड या page को डिज़ाइन करने मे करते है । एचटीएमएल के initial version को आज से 28 साल पहले 1993 मे WHATWG नाम के ग्रुप ने रिलीस किया था ।

HTML को डिवैलप करने का Idea सबसे पहले Tim Berners Lee के दिमाग मे आया था जिसके बाद से उन्होने सन 1990 मे 3 चीज़ों को प्रपोज़ किया था ।

  1. HTML – ये थी वैबसाइट की लिए markup यानि की formatting भाषा
  2. URI – Uniform resource identifier ये ऐसा एड्रैस होता है जो की unique होता है इसे ही URL ही कहते है
  3. HTTP- Hyper text transfer protocol जो की वेब से डाटा को fetch करने का एक प्रोटोकॉल होता है

HTML बहुत ही आसान language है और इसे आसानी से और कम समय मे सीखा जा सकता है ये language portable है और Platform Independent है यानि की आप एचटीएमएल को किसी एक डिवाइस मे code करके ठीक उसी तरह दूसरे डिवाइस मे भी चला सकते है ।

और प्लैटफ़ार्म इंडिपेंडेंट का मतलब यह की आप HTML को किसी भी ऑपरेटिंग सिस्टम यानि की Linux , Windows , Android , Kaios इत्यादि मे चला सकते है । ये ठीक वैसे ही सारे OS मे वर्क करेगी ।

HTML एक document टाइप लैड्ग्वेज होती है और इसे रंग रूप देने या कहे beautify करने के लिए CSS का इस्तेमाल किया जाता है । CSS भी website की डिज़ाइन के लिए यूस किया जाता है । यह दूसरे Computer की भाषा जैसे की PHP , C ,Python ,Java इत्यादि से काफी आसान होता है ।

यू समझ लीजिए की HTML सरीर का ढांचा तो तैयार कर देता है किन्तु ऊसे सजने सवारने का कम CSS करती है और रेस्पोंसिव बनाने का कम JS यानि की Javascript करता है और HTML , CSS ,JS मिलकर के एक कंप्लीट वेब page को तैयार करते है ।

अब आपको समझ मे आ गया होगा की html क्या होता है अब चलिए आपको डीटेल मे बताते है की एचटीएमएल का क्या use होता है और किस प्रकार से use होता है ।

Version of html in hindi

HTML का अभी का लेटैस्ट वर्शन जो चल रहा है वो है HTML5 इस वर्शन मे बहुत सारे नए फीचर tag भी दिए गए है Audio , Video , Geolocation , Canvas इत्यादि के लिए जो इसके पहले के वर्शन मे नहीं थे ।आइए जानते है थोड़ा सा इसके पुराने वर्शन के बारे मे ।

HTML 1.0

यह एचटीएमएल का सबसे ओल्डर वर्शन है जिसे 1993 मे रिलीस किया गया था और इसे रिलीस करने के पीछे का मुख्य उद्दहस्य Internet के थ्रू readable information को शेयर करना था ।

HTML 2.0

इसे एचटीएमएल 1.0 के बाद रिलीस कियाया गया था 1995 मे इसमे html 1.0 के सारे फीचर थे साथ ही कुछ नए फीचर को भी add किया गया था ।

HTML 3.0

Html 3.0 को रिलीस किया गया था 1997 मे रिलीस कियाया गया था इसमे html 2.0 के सारे फेयटुरे के साथ कुछ नए और powerful फीचर भी जोड़े गए ।

HTML 4.01

ये वर्शन HTML 5 के पहले तक का सबसे सफल वर्शन रहा इस वर्शन के आने के बाद से html की दुनिया ही जैसी पलट गयी और वेब pages काफी ज्यादा एडवांस हो गए ।

HTML 5

ये वर्शन अभी का लेटैस्ट वर्शन है जिसमे बहुत सारे पावरफूल फीचर जैसे की embeding , audio , video , geo इत्यादि दिये गए है इसे 2012 मे रिलीस किया गया था । अभी 2017 से HTML 5.2 चल रहा है ।

HTML काम कैसे करता है

html kya hai
HTML क्या है और ये कैसे काम करता है 2

जैसा की मैंने पहले ही shout किया था की HTML मे code करना बहुत ही आसान होता है इसके लिए आपके पास मोबाइल मे एचटीएमएल एडिटर या text एडिटर होना चाहिए और लैपटाप मे notepad से ही कम चल जाएगा किन्तु अगर आप थोड़ा एडवांस editor सोच रहे है तो VS editor , sublime वगैरह का इस्तेमाल आप कर सकते है ।

एचटीएमएल basically Tag होते है जो की comparison symbol यानि की < और > के अंदर लिखा जाता है और इनके ये Tag ही बताते है की इसके अंदर के element को कैसे दिखाना है और इनका काम क्या है ।

जब हम html मे code तैयार कर लेते है तो इसे सेव करते है एक फ़ाइल मे जिसका एक्सटैन्शन दो तरह का हो सकता है .htm और .html ये दोनों ही html फ़ाइल टाइप को बताते है । अब इस फ़ाइल को रेंडर यानि की प्रोसैस करने के लिए हमे अलग से एक टूल की आवश्यकता होती है जिसे हम browser कहते है जैसे की Chrome , Moxilla , IE aur Safari ।

रेंडर करने के बाद ब्राउज़र हमे html पेज को आउटपुट के तौर पर दिखते है । ध्यान रहे की हमे code किया गया tag नहीं दिखता है बल्कि वो tag के बेसिस पे processed रिज़ल्ट दिखता है ।

खैर चलिए हम आपको tag के बारे मे बताते है जिससे की आपको ज्यादा अच्छे से समझ मे आ जाएगा की HTML Tag kya hote hai ।

HTML Tag क्या होता है

Html Tag एचटीएमएल डॉकयुमेंट का core होता है यानि की ये एक कंटेनर की तरह होता है जो की एचटीएमएल एलिमंट को कंटेन करता है । ये Tags एंगल ब्रैकेट मे बंद रहते है और कुछ Tag जैसे की Img , br , hr को छोड़ कर बाकी सभी tags का अपना closing tags भी होता है ।

उदाहरण के तौर पर समझाए तो एंकर tag का अपना क्लोसिंग होता है जैसे की <a> का क्लोसिंग </a> , <head> का क्लोसिंग </head> होता है ।

HTML के सारे अलग अलग Tags अलग तरह से फंकशन करते है मतलब ब्राउज़र को अलग तरह के इन्सट्रक्शन देते है की क्या करना है और कोण सा एलिमंट कैसे दिखाना है जैसे की अगर उदाहरण के तौर पर मई आप को बताऊ तो <img> ब्राउज़र को बताता है की Image दिखाना है इसके Attribute यानि की src मे दिए गए लोकेशन से ब्राउज़र image को फेच करके आपको दिखा देता है ।

<img src="your_location/image.png"/>

HTML के नए नए वर्शन के रिलीस के साथ ही साथ अलग अलग तरह के नए Tag भी रिलीस होते रहते है ।

अगर आपने ध्यान दिया हो तो मैंने Attribute कोई बात की है तो आप अब सोच रहे होगे की ये क्या बला है तो चलिए आपको थोड़ा सा इसके बारे मे भी ज्ञान दे देते है ।

Html tag attribute क्या है

बात करे html के attribute की तो ये html element टाइप के modifier होते है जो की किसी एलिमंट के डिफ़ाल्ट functionality को modify करते है या फिर functionality प्रदान करते है कुछ एलिमेंट्स को जिससे की वो सही से कम कर सके ।

<img src="your_location/image.png"/>

उदाहरण के तौर पर जैसे की मैंने ऊपर code दिया हुआ है इसमे attribute src के बिना browser किसी भी इमेज को फेच नहीं कर पाएगा । इसलिए ये attribute लोकेशन की functionality प्रोवाइड कर रहा है ।

अब मेरे ख्याल से आपको Tag और Attribute दोनों अच्छे से समझ आ गए होंगे अब चलिए आपको बताते HTML के स्ट्रक्चर के बारे मे ।

HTML Structure क्या है कैसा होता है

अब बात करे HTML के स्ट्रक्चर की तो एचटीएमएल का स्ट्रक्चर ठीक आपके स्ट्रक्चर के जैसा ही है यानि की html tag के अंदर पहले Head फिर Body अब चलिए इसको अच्छे से समझते है ।

Head आपके डॉकयुमेंट की जरूरी और मेटा chize जैसे की CSS , JS files और scripts इत्यादि को रखता है और हैड की chize आपको रिज़ल्ट मे नही दिखती है बस इसका उपयोग होता है प्रोसेसिंग मे ।

और वही दूसरी ओर बॉडी आपके वो सभी एलिमंट को रखता है जो आपको ब्राउज़र पे दिखाई देती है । और बॉडी भी css files और स्क्रिप्ट्स को कंटेन कर सकता है ।

<!DOCTYPE html>
<html>
<head>
  <title>theshouters.net मे आपका स्वागत है </title>
</head>
<body>
यहा लिखी गयी सारी चीजे आपको रेंडर होने के बाद ब्राउज़र पे दिखेगी।
</body>
</html>

HTML कहा से सीखे

html in hindi
HTML क्या है और ये कैसे काम करता है 3

HTML को सीखने के लिए यूट्यूब और लर्निंग प्लैटफ़ार्म जैसे की Udemy , Lynda और websites पे बहुत से लैक्चर और टूटोरियल मौजूद है । फिर भी सीखने के लिए बेस्ट वैबसाइट मई आपके ये W3School रेकोमेंड करूंगा । और आप खुद से भी यूट्यूब पे सर्च कर सकते है और आपको बहुत सारे अच्छे लैक्चर मिल जाएंगे ।

Bonus Shout

चलिए अब समय आ गया है की अपने Shouters को कुछ काम की चीज़ बताने का तो चलिए आज मै आपको बताता हु की Meta का मतलब क्या होता है और Meta tags क्या होते है ।

  • Meta का मतलब होता Information about the information

समझ मे नहीं आया न , चलिए कोई बात नहीं ईसे और अच्छे से समझते है । आज जैसे मैंने इस पोस्ट को लिखा है तो मैंने जो पोस्ट लिखी है वो एक तरह का इन्फॉर्मेशन है । लेकिन यह इन्फॉर्मेशन किस चीज़ की है क्या है इसके बारे मे जो information होगा वही है Meta इन्फॉर्मेशन । यानि की ये पोस्ट html kya hota hai को बताता है ।

अब देखिए आपके काम की बात यदि आप ब्लॉगर या फिर वैबसाइट ओनर है तो – Search इंजिन जब आपके पगे को rank करते है तो किस बेसिस पे करते है – Information के आधार पे और ये information का information हमे कहा मिलेगा Meta tag यानि की <meta> के अंदर जैसे की हो गया meta title , description ,Keyword व दूसरे मेटा tags ।

अब आपका वैबसाइट किस तरह से रंक कर रहा है य देपेंड करता है की आपने किस तरह से Meta SEO को ओपतीमिजे किया है जो की सर्च इंजिन को exact इन्फॉर्मेशन अच्छे से दे प रहे है । इसे ही कहते है off page seo ।

Final Words

अब मुझे लगता है की मैंने आपको सारी जरूरी छीजे बता दी है और आपको समझ मे आ गयी है लेकिन फिर भी हो सकता है की आपको कुछ समझ मे न आया हो या फिर मुझसे कुछ छुट गया हो या मैंने गलती करी है तो सवाल जबाब करने के लिए कमेंट जरूर करे ,

यदि मेरा द्वारा लिखा गया यह आर्टिक्ल – “what is html in hindi” आपको पसंद आया होतो इसे Share जरूर करे और आपको कैसा लगा कमेंट कर के जरूर बताए ।

html kya hai
0 Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0 Shares
Copy link