October 22, 2021



Best Emotional Hindi Diwas Poem 2021

hindi diwas poem
hindi diwas poem
Best Emotional Hindi Diwas Poem 2021 1

Hey Shouters, Welcome to Hindi Diwas Poem.

दोस्तों जैसे कि आप लोगों को पता ही होगा कि 14 सितंबर के दिन सन 1949 ईस्वी में भारतीय संविधान की बैठक में हिंदी भाषा को आधिकारिक रूप से भारत की ऑफिशियल भाषा का दर्जा प्रदान किया गया था तब से ले कर आज तक 14 सितंबर को भारतीय हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है ।

दोस्तों इस दिन छात्र-छात्राएं एवं गुरुजन विद्यालयों में अथवा किसी समारोह में जो कि हिंदी दिवस के उपलक्ष में किया गया हो उसमें हिंदी के सम्मान में हिंदी के ऊपर भाषण ,पोयम इत्यादि गाते हैं जो कि हिंदी की महानता को प्रकट करता है और हिंदी दिवस को सफल बनाने का कार्य करता है ।

तो दोस्तों के लिए हम आपके लिए लेकर आए हैं कुछ ऐसी Hindi divas poem जोकि निश्चित रूप से हृदय को स्पर्श करने वाली और सहानुभूति से भरी हुई है जिसे सुना कर आप अपने गुरुजनों या छात्र-छात्राओं का ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर सकते हैं एवं हिंदी दिवस के दिन हिंदी के सम्मान में चार चांद लगा सकते हैं ।

hindi diwas poem 2021
Best Emotional Hindi Diwas Poem 2021 2

Hindi Diwas Poem #1

दोस्तों यह एक बहुत ही साधारण सी पोयम है जिसे आप हिंदी दिवस पर अपने भाषण या फिर अपनी किसी वाद संवाद नाट्य इत्यादि को शुरू करने से पहले इस छोटी सी पोयम को हिंदी दिवस के अवसर पर हिंदी के सम्मान में गा सकते हैं

सागर में मिलती धाराएं
हिंदी सबकी संगम है

शब्द नाद लिपि से भी आगे
एक भरोसा अनुपम है

गंगा कावेरी की धारा
साथ मिलाती हिंदी है

पूरब पश्चिम कमल पंखुड़ी
सेतु बनाती हिंदी है

Hindi Diwas Poem #2

इस पोयम को आप थोड़ा जोश और उत्साह के साथ गा सकते हैं और हिंदी दिवस पर हिंदी के सम्मान में चार चांद लगा सकते हैं यदि आप छात्र हैं या अध्यापक हैं या फिर कोई भी हो हिंदी दिवस पर हिंदी के सम्मान में आप इस पोयम को गा सकते हैं यह निश्चित ही सबके हृदय को स्पर्श करने वाला है और सबको पसंद आएगा

हिंदी के झंडे को पूरे विश्व में फहराएंगे
मालवीय के हिंदी हिंदुस्तान के उद्घोष से
सोए सिंह भारत को जगायेंगे

हम हिंद के निवासी
हिंदी को पूरे विश्व की भाषा बनाएंगे
हिंदी के प्रति जो उपेक्षा भाव समाज में भर गए हैं
सब को मिटायेंगे

राष्ट्रीय एकता की जननी को
हृदय से राज्य भाषा विश्व भाषा के पद पर बैठाएंगे
कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक
अटक से लेकर कटक तक हिंदी प्रेम की गंगा बहाएंगे

कबीर जायसी सूर तुलसी
अमर हिंदी साहित्य का प्रकाश पूरे विश्व में फैल आएंगे
शिवत्व बुद्धत्व हिंदी गीता ज्ञान
गंगा की पवित्र धारा को पूरे विश्व में पहुंचाएंगे

स्वामी दयानंद विवेकानंद को
आदर्श बना राष्ट्र स्वाभिमान को जगायेंगे
भारतेंदु राजर्षि टंडन राज शास्त्री के
हिंदी राष्ट्रभाषा प्रेम को अपनाएंगे

दार्शनिक वैज्ञानिक साहित्यकार शिव संकल्प भाव से
आर्य भाषा हिंदी को सर्वोत्तम साहित्य से सजाएंगे
विधानसभा संसद संयुक्त राष्ट्र संघ में
हिंदी गौरव गान धुन को बजाएंगे

Hindi Diwas Poem #3

hindi diwas poems
Best Emotional Hindi Diwas Poem 2021 3

दोस्तों नीचे दी गई यह पोयम बहुत ही मार्मिक है और बहुत ही गहरा संदेश देती है साथ ही में या अपनी हिंदी भाषा को तुच्छ मानने वाले और अंग्रेजी भाषा को महत्व देने वाले लोगों पर करारा कटाक्ष प्रदर्शित करती है मेरे ख्याल से यह best hindi diwas poem है जिसे आप हिंदी के सम्मान में गा सकते हैं।

इस poem को गाने के लिए आपको पूरे उत्साह और जोश के साथ गाना है आपको इसे गाने की तरह एक लाइन में नहीं जाना है अपितु संबोधित करते हुए संबोधन के अंदाज में पूरे जोश के साथ गाना है यह पोयम निश्चित रूप से हर कोई हिंदी दिवस पर गा सकता है

बनी द्रौपदी खड़ी है हिंदी
इंग्लिश खींचे चीर ।
अंधा राज्यसभा है बहरी किसे सुनाए पीर॥

इंग्लिश स्कूल बने हैं गौरव
नष्ट कर रहे देश का गौरव ।
निपट अकेली हिंदी रोए भर नैनों में नीर
अंधा राज्यसभा है बहरी किसे सुनाए पीर ॥

हिंदी के कर्ताधर्ता सब बनकर पांडव दूर खड़े हैं
हिंदी प्रेमी दरबारी सब बंधे हाथ मजबूर खड़े हैं ।
इज्जत सारी दांव लग गई स्थिति है गंभीर
अंधा राज्यसभा है बहरी किसे सुनाए पीर ॥

पदवी है महारानी की पर दासी सा व्यवहार
हिंदी सहती देश में अपने कितना अत्याचार।
कहां गए अब किशन कन्हाई कौन बढ़ाएं चीर
अंधा राज्यसभा है बहरी किसे सुनाए पीर ॥

इंग्लिश में जो बात कर रहा वहीं बड़ा विद्वान
देश में हिंदी भाषा का है नहीं मान सम्मान ।
हिंदी लगती कड़वी उनको इंग्लिश जैसे खीर
अंधा राज्यसभा है बहरी किसे सुनाए पीर ॥

अंग्रेजों ने भारत आकर हमें गुलामी थोपा
जाते-जाते इंग्लिश रूपी पौधा देश में रोपा ।
आज वही नासूर बना है चुभता जैसे तीर
अंधा राज्यसभा है बहरी किसे सुनाए पीर ॥

दोस्तों आगे बढ़ने से पहले मैं आपको बता दूं कि हमने हिंदी दिवस के ऊपर एक और पोस्ट लिखा हुआ है जिसमें बहुत ही अच्छी अच्छी कविताएं हैं जो कि बहुत ही मार्मिक और हृदय को स्पर्श करने वाले संदेश देती हैं आप उन्हें भी गा सकते हैं जो नीचे दी गई है ।

हिन्दी दिवस के लिए हृदय को स्पर्श करने वाली कटाक्ष कविताए

Hindi Diwas Poem #4

इस पोयम में हिंदी भाषा के हम सब के द्वारा किए गए अपमान और तिरस्कार को शब्दों के माध्यम से बहुत ही मार्मिक तरीके से हिंदी भाषा के लाचार भाव को पिरोया गया है

हिन्दी दिवस poems
Best Emotional Hindi Diwas Poem 2021 4

Hindi Diwas Poem #5

दोस्तों यह एक छोटा पोयम है जो कि आप अपने भाषण को शुरू करने से पहले या फिर अपने भाषण के अंत में इस छोटे पोयम को गाकर के एक बहुत ही गहरा और बड़ा संदेश पोयम के माध्यम से हिंदी दिवस पर हिंदी के सम्मान में हिंदी वासियों को दे सकते हैं ।

हिंदी मेरा ईमान है
हिंदी मेरी पहचान है 
हिंदी हूं मैं वतन भी मेरा 
प्यारा हिंदुस्तान है

बढ़े चलो हिंदी की डगर 
हो अकेले फिर भी मगर 
मार्ग की कांटे भी देखना 
फूल बन जाएंगे पथ पर 

हिंदी मेरा इमान है 
हिंदी मेरी पहचान है
हिंदी हूं मैं वतन भी मेरा 
प्यारा हिंदुस्तान है

Disclaimer

यहां पर दी गई सभी हिन्दी पोएम्स हिंदी दिवस के सम्मान के लिए और शिक्षा के उद्देश्य से दी गई हैं हमारा उद्देश्य किसी के मूल कांटेक्ट अधिकार यानी कि कॉपीराइट को उल्लंघन करना नहीं है यदि आपको किसी poem से आपत्ति है तो आप हमें hariom@theshouters.net पर ईमेल कर सकते हैं

Final Words

तो दोस्तों यह थे कुछ Hindi diwas poem जिन्हें आप हिंदी के सम्मान में हिंदी दिवस पर गा सकते हैं आपको यह पोयम्स कैसे लगे हमें कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं यदि आप हमसे कुछ सवाल जवाब करना चाहते हैं तो कमेंट के माध्यम से कर सकते हैं हम जल्द से जल्द उसका उत्तर देने की कोशिश करेंगे ।

hindi diwas poem
1 Share

15 Comments

  1. Ashish S Reply

    Bahut hi sundar panktiya hai Parul ji . In poem ke lie apka aabhar . Mai Sharda Inter College ka adhyapak hu aur maine apne students ko is hindi divas inhi poems ko dunga taiyar karne ke lie

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 Share
Copy link